सफेद बाल का घरेलू उपचार

बाल सभी व्यक्ति महिला / पुरूष दोनों के लिए खूबसूरती का एक तोफा है , यह तोफा इस समय वातावरण का प्रदूषित , अल्ट्रा वॉयलेट किरणे , रहन-सहन , कैमिकल से बने साबुन / शैम्पू / तेल / कंडीशनर / पोषक /हेयर कलर / CO 2 की बढ़ती मात्रा आदि सभी मिलकर बालों को इस प्रकार डैमेज कर रहे है की मानों बालों की सारी खुशियाँ ही छीन लिए हो जैसे – बाल का सफेद होना , बाल का टूटना , बाल का पतलापन , बाल में रूसी का होना आदि सभी तत्व मिलाकर बालों को इस प्रकार डैमेज करते है ।

बालों में होने वाली सभी प्रकार की समस्या को देखते हुए एवं बढ़ती समस्या के समाधान के लिए यह लेख माय उपचार के द्वारा बालों में होने वाली सभी प्रकार की समस्या और बालों के लिए कौन सा तेल का इस्तेमाल करना चाहिए और बालों पर होने वाले साइड इफेक्ट से बचाव कैसे किया जा सके । 

सफेद बाल होने के कारण क्या है ?

सफेद बाल होने के निम्नलिखित प्रकार के कारण होते है।

1. पोषक तत्व की कमी – सफेद बाल होने का कारण पोषक तत्व की कमी भी बताया जाता है । पोषक तत्व की कमी जैसे – विटामिन A , विटामिन B 6 , विटामिन B 12 , बायोटिन आदि सभी प्रकार के तत्व की कमी के कारण सफेद बाल होते है । पोषक तत्व की कमी को दूर करने के लिए भोज्य पदार्थ , हरी सब्जी , फल आदि का सेवन करना चाहिए ।
भोज्य पदार्थ – मोटा अनाज , चावल , चना , राजमा , चीनी आदि ।
हरी सब्जी – टमाटर , पालक , गोभी , सेम , बरसेम , मटर , सरसों , चुकंदर आदि सभी का सेवन करना चाहिए ।
फल – अनार , संतरा , अंगूर , आम , केला आदि का सेवन करना चाहिए जिसमे अधिक मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते है ।

2. वातावरण का प्रदूषित – बाल का सफेद होना वातावरण का प्रदूषित होना भी होता है । वातावरण के प्रदूषित होने से कम उम्र के लोगों में सफेद बाल जैसे – दाढ़ी के बाल , सिर के बाल , नाक के बाल आदि सभी बाल धीरे-धीरे सफेद होने लगते है । वातावरण के प्रदूषित होने से बाल डैमेज होकर सफेद होने लगते है । प्रदूषित वातावरण से बचाव करने के लिए निम्नलिखित प्रणाली का ध्यान रखना चाहिए जिससे बाल सफेद होने से बचाव किया जा सके और स्वास्थ का भी ध्यान रखा जा सके ।

1. प्रदूषित वातावरण से बचाव करने के लिए जैसे – धूल , धुआं , प्रदूषित पानी आदि सभी से बचाव करना चाहिए ।

2. अधिक प्रदूषित वातावरण जहां होता है वहां अधिक समय तक नहीं रहना चाहिए क्योंकि बाल एवं स्वास्थ पर बुरा प्रभाव होता है ।

3. प्रदूषित पानी पीने से और नहाने से बाल एवं शरीर पर बुरा प्रभाव होता है इसलिए प्रदूषित पानी से बचाव करना चाहिए ।

4. प्रदूषित वायु श्वास नली के द्वारा फेफड़े और कोशिकाओं को अधिक प्रभावित करता है जिससे स्वास्थ पर बुरा प्रभाव होता है ।

5. प्रदूषित पानी से बाल धुलने और नहाने से बाल एवं त्वचा पर बुरा प्रभाव होता है इसलिए नहाने से पूर्व पानी की जांच जरूर करना चाहिए ।

3. अल्ट्रा वॉयलेट किरणे – अल्ट्रा वॉयलेट किरणे ओजोन परत में छेद होने से अल्ट्रा वॉयलेट की किरणे अब सीधा त्वचा और बाल पर पड़ते है जिससे बाल और स्वास्थ पर बुरा प्रभाव होता है ।अल्ट्रा वॉयलेट से निकलने वाली गर्मी त्वचा , बाल और स्वास्थ पर बुरा प्रभाव होने से बीमार हो जाते है ,इसलिए अल्ट्रवॉयलेट से बचाव करने के लिए फेस मास्क और धूप से बचाव करने के लिए सिर को किसी तौलिये से ढकना चाहिए ।

4. पोषक तत्व की कमी – आप सब लोग भली-भांति से जानते है की पोषक तत्व की कमी होने से शरीर और स्वास्थ पर क्या बुरा प्रभाव होता है ।  शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पोषक तत्व की आवश्यकता होती अगर किसी प्रकार की पोषक तत्व में कोई कमी होती है तो शरीर में होने वाली रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है जिससे शरीर में होने वाली बाहरी वायरस , कीटाणु , जीवाणु आदि से लड़ने की क्षमता कमजोर हो जाती है और किसी भी प्रकार की गंभीर बीमारी के शिकार हो जाते है । पोषक तत्व की कमी को दूर करने के लिए यह जरूर अपनाये जिससे बाल सफेद होने से और बीमार होने से बचाव किया जा सके । पोषक तत्व – विटामिन से भरपूर फल,सब्जी, ड्राई फूड , अनाज का सेवन करना चाहिए ।

फल – अमरूद , संतरा , आम , कीवी , स्ट्राबेरी , अनार , अंगूर आदि का सेवन करना चाहिए इसमें उचित मात्रा में पोषक तत्व , विटामिन , आयरन , कैल्शियम आदि सभी तत्व अधिक मात्रा में पाए जाते है जो किसी भी बीमारी को रोकने में मदद करते है ।

 सब्जी – पालक , चुकंदर , गाजर , मूली , टमाटर , कुदरू , आलू , नेनुआ , भिंडी , हरी मिर्च आदि का सेवन करना चाहिए ।


अनाज – चावल , रोटी , दाल , चना , मटर , मूंगफली आदि का सेवन करना चाहिए जिसमे अधिक मात्रा में प्रोटीन , वसा , विटामिन , पोषक तत्व आदि उचित मात्रा में मिलता रहे ।

5. कैमिकल से बने साबुन/शैम्पू/कंडीशनर – कैमिकल से बने साबुन / शैम्पू/कंडीशनर/ आदि सभी का इस्तेमाल बाल पर करने से बाल डैमेज होकर झड़ने लगता है और सफेद होने लगते है आदि सभी प्रकार की समस्या बालों पर होती है ।बाजार में मिलने वाले कैमिकल से बने साबुन/शैम्पू/कंडीशनर आदि का इस्तेमाल बाल पर करने से बाल प्रभावित होते है और डैमेज भी होने लगते है ।बाजार में मिलने वाले साबुन/शैम्पू /तेल आदि सभी का इस्तेमाल करने से बचाव करना चाहिए क्योंकि यह सभी पदार्थ कैमिकल से बने होते जो बाल पर बुरा प्रभाव करते है ।

सफेद बाल होने के अन्य कारण 

सफेद बाल होने के निम्नलिखित अन्य कारण जो युवाओं में तेजी से होते है और समय से पहले सफेद होते है ।

1. अनुवांशिक कारण ( जीन माता-पिता से मिलने वाले बीमारी )

2. मानसिक तनाव के कारण बाल का सफेद होना ।

3. मिलैनिन कलर का प्रभावित होना ।

4. थाइराइड ग्रन्थि में कमी होना ।

5. नींद न पूरी होना ( अधिक देर तक जागना )

6. शुगर की बीमारी से रक्त सेल्स प्रभावित होना ।

7. बाल में रूसी का अधिक होना ।

8. एनीमिया की बीमारी लम्बे समय तक रहना ।

9. प्रोटीन की कमी ।

10. हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करना ।

11. धूम्रपान और तम्बाकू का सेवन करना ।

12. कलर पिग्मेंटशन का प्रभावित होना ।

सफेद बाल होने के लक्षण क्या है ?

सफेद बाल होने के लक्षण निम्नलिखित प्रकार के होते है ।

1. सफेद बाल के लक्षण सिर के बाल में या फिर दाढ़ी के काले बाल में सफेद बाल का दिखाई देना ।

2. सिर में सफेद बाल होने पर खजुली अधिक होना ।

3. सफेद बाल को कलर ( डाई ) करने पर त्वचा पर चुनचुनाहट होना ।

4. सफेद बाल का न झड़ना ।

5. सफेद बाल काले वाले बाल से अधिक बड़ा एवं अलग दिखाई देना ।

6. सफेद बाल अधिक रूखापन और चपल दिखाई देना ।

सफेद बाल को काला करने के लिए योग 

कम उम्र में काले बाल सफेद होने लगते है इस सफेद बाल को दूर करने के लिए करें यह योग जिससे सफेद बाल होंगे काले ।


1. शीर्षासन योग – शीर्षासन योग करने के लिए सबसे पहले एक चटाई या फिर एक दरी की आवश्यकता होती है । शीर्षासन योग करने के लिए सबसे पहले आप सिर को नीचे रखकर दोनों हाथ से सिर को पकड़कर रखें और फिर दोनों पैर को बैलेंस करके ऊपर की तरफ ले जाए , और बराबर स्थिति में होकर धीरे-धीरे नाक से सांस अंदर ले और फिर इसे बाहर की तरह छोड़े यह योग दिन में एक बार करने से स्वास्थ के प्रति अधिक फायदे होते है ।
शीर्षासन योग के फायदे

1. शीर्षासन योग करने से सफेद बाल काले होते है ।

2. वजन कम करने के लिए यह योग अधिक फायदेमंद है ।

3. हृदय के स्वास्थ के लिए यह फायदेमंद है।

4. ब्लड प्रेशर के रोगी के लिए फायदेमंद योग ।

5. ब्लड सर्कुलेशन के लिए फायदेमंद योग।

6. रोग-प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने के लिए यह फायदेमंद होता है ।

7. बाल को अधिक घना और जड़ से मजबूत बनाये रखता है।

8. दमा ( अस्थमा ) के रोगी के लिए यह योग अधिक फायदेमंद है ।


2. बालायाम योग – आप सभी लोग जानते है की बालायाम योग करने से बाल की सभी समस्या दूर होती है जैसे – झड़ते बाल , अधपके बाल , सफेद बाल , बाल का न उगना आदि सभी प्रकार की समस्या बालायाम योग योग करने से दूर होती है !बालायाम योग करने के लिए किसी चीज या समान की कोई आवश्यकता नहीं होती है ! बालायाम योग करने के लिए दोनों हाथ की उंगली के नाखून को आपस में रगड़े और अंगुली को रगड़ने से एक समान प्रकार की ऊर्जा उत्पन्न होती है यह ऊर्जा सीधा दिमाक से होकर बाल को ऊर्जा एवं शक्ति प्रदान करता है जिससे बाल को पोषण मिलता और बाल स्वस्थ एवं मजबूत हो और सफेद बाल से छुटकारा मिलता है ।

बालायाम योग के फायदे 

1. झड़ते बाल और झड़े हुए बाल को फिर से दुबरा जमाव होना ।

2. रक्त संचार में तेजी लाना ।

3. सफेद बाल से छुटकारा और बाल में होने वाली सभी प्रकार की समस्या दूर होती है ।

4. बाल की वृद्धि के लिए यह योग ।

5. बाल में होने वाली रूसी से छुटकारा मिलती है ।

3. अनुलोम-विलोम प्राणायाम – अनुलोम-विलोम प्राणायाम योग करने के लिए सबसे पहले आपको एक चटाई या फिर दरी की आवश्यकता होती है जिसपर आप बैठ कर योग कर सके ।अनुलोम-विलोम प्राणायाम योग करने के लिए सबसे पहले आप चौकड़ी मार के बैठ जाइये और दोनों हाथ को घुठनी के सीधे रखे फिर दाहिनी नाशिका को हाथ से पकड़े और फिर बाई नाशिका को पकड़े दूसरे हाथ से पकड़े और दूसरे नाक से तेजी से सांस अंदर और बाहर खींचे यह क्रिया आपको 5 से 10 मिनट तक रोज करना है जिससे अनुलोम-विलोम प्राणायाम करने के सारे फायदे आपको मिल सके ।

अनुलोम-विलोम प्राणायाम के फायदे 

अनुलोम-विलोम प्राणायाम योग करने के अनेक फायदे होते है ।


1. सांस की होने वाली सभी समस्या दूर होती है ।

2. ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता है ।

3. रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है ।

4. बाल से सभी प्रकार की समस्या दूर होती है ।

5. ह्रदय रोग से छुटकारा मिलती है ।

6. होने वाली बीमारी से छुटकारा मिलती है ।

सफेद बाल को जड़ से काला करने के लिए तेल 

सफेद बाल को जड़ से काला करने के लिए निम्नलिखित प्रकार के तेल का सेवन करने से सफेद बाल से छुटकारा मिलती है ,और बाल घने होते है और रूसी आदि सभी प्रकार के बालों में होने वाली समस्या दूर होती है ।

1. आंवला तेल और नारियल तेल , कत्था बालों को जड़ से करे काला


सामग्री 

1. बाल में जितना लगाने आवश्यकता ( 5 ml पुरुषों के लिए एवं महिलाओं के लिए 8 ml )

2. नारियल का तेल 1 चमच ( महिलाओं और पुरूषों के लिए )

3. कत्था का चूर्ण आधा चमच पाउडर 


विधि ( कैसे तैयार करें )

1. एक फ्राई पैन में आंवला का तेल , नारियल तेल , कत्था पाउडर का चूर्ण ।

2. सभी सामग्री को लेकर फ्राई पैन में हल्के आंच पर 5 मिनट के लिए गर्म करें ।

3. गर्म होने के बाद इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दे ।

4. ठंडा होने के बाद बाल को किसी शैम्पू की मदद से धूले और बाल को किसी तौलिये से सूखा ले ।

5. तैयार पेस्ट को बालों और बाल के जड़ो में लगाए ।

6. पेस्ट को लगाने के बाद बाल को 1 घंटे बाद पानी से धूले ।

फायदे 1. सफेद बाल को काला करने के लिए यह नुस्खा अधिक फायदेमंद है ।

2. बाल काले एवं घने होते है ।

3. बालों के लिए पोषक तत्व जैसे – विटामिन सी , एंटीऑक्सीडेंट , एन्टीबैक्ट्रीरियल , एंटी डिटॉक्स , बाल की सुरक्षा प्रदान करने के लिए आदि सभी प्रकार के लिए फायदेमंद होता है ।

4. कत्था – सफेद बाल को एक कलर देने के लिए , बाल को काला करने के लिए आदि सभी फायदे होते है ।

2. मेहंदी पाउडर ,इंडिगो पाउडर ,सरसों तेल सफेद बाल को करे जड़ से काला


सामग्री 


1. मेंहदी पाउडर ( पुरूष एवं महिला बाल के आवश्यकता अनुसार )

2. इंडिगो पाउडर ( आवश्यकता अनुसार )

3. सरसों का तेल ( दोनों सामाग्री को पेस्ट तैयार करने के लिए आवश्यकता अनुसार )

विधि ( कैसे तैयार करे )

1. मेहंदी पाउडर , इंडिगो पाउडर , सरसों का तेल आदि सभी को बाल के आवश्यकता अनुसार तैयार करे ।

2. फ्राई पैन में सभी सामग्री को रखकर इसे हल्के आंच पर 15 मिनट तक गर्म करे ।

3. सामाग्री तैयार होने पर इसे बाल और जड़ में लगाए ।

4. 30 से 45 मिनट तक बाल में लगा रहने और फिर साफ पानी से धूले ।

5. इस पेस्ट का इस्तेमाल महीने में 2 बार करने से बाल काले और घने हो जायेंगे ।

फायदे 


1. बाल काले एवं घने होते है ।

2. इंडिगो पाउडर का इस्तेमाल करने से बाल चमकीले एवं काले होते है ।

3. सरसों बाल को मजबूत एवं काला बनाये रखता है ।

4. बाल में होने वाली सभी प्रकार की समस्या दूर होती है ।

5. रूसी से छुटकारा पाने के लिए यह आसान टिप्स है ।

3.  आलू के छिलके जूस और प्याज का तेल सफेद बालों को जड़ से काला करें 


सामाग्री 

1. आलू के छिलके को बारीक कटा हुआ 100 ग्राम !2. प्याज का तेल या बारीक कटा हुआ प्याज का टुकड़ा 35 ग्राम !3. दोनों को आपस में मिलाकर हल्का पानी डालकर गर्म करे !4. इस पेस्ट को 30 मिनट तक हल्की आंच पर गर्म करे !5. गर्म होने के बाद इसे ठंडा होने पर बाल में लगाए और इसे फिर 1 घंटे बाद ठंडा पानी से धुले 

फायदे 

1. सफेद बाल काले और जड़ से मजबूत होते है ।

2. बाल घना और चमकीला होता है ।

3. रूसी से छुटकारा ।

4. आलू के छिलके में मौजूद तत्व बाल को जड़ से काला करने में मदद करता है ।

!5. यह नुस्खा बाल पर किसी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है ।

6. प्याज का तेल बाल को काला और घना बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।


इस नुस्खे का इस्तेमाल हप्ते में 1 बार करने से सफेद बाल काले हो जायेंगे और बाल जड़ से मजबूत होते है ।

सफेद बाल को जड़ से काला करने के लिए घरेलू इलाज 

सफेद बाल को काला करने के लिए घरेलू उपचार निम्नलिखित प्रकार के होते है !

1. आंवला का चूर्ण , नींबू , तुलसी की पत्ती , कत्था सफेद बाल से छुटकारा दिलाये

आंवला बारीक पिसा हुआ और नींबू की 10 बूंद , तुलसी की पत्ती आदि सभी को मिलाकर एक पेस्ट तैयार करे और तैयार पेस्ट को बाल में लगाने से सफेद बाल काले होते है और घने होते है ।
इस पेस्ट का इस्तेमाल महीने में 1 बार के इस्तेमाल करने से सफेद बाल काले एवं मजबूत होते है ।

2. नींबू सफेद बालों से दिलाए छुटकारा

नींबू में मौजूद विटामिन और एस्कार्बिक एसिड और एंटी डिटॉक्स और आंवला , गुड़हल का फूल की मौजूदगी में इसका इस्तेमाल बाल पर करने से सफेद बाल जड़ से काले होते है ।

सावधानियां 

नींबू का इस्तेमाल बाल में करने से बाल अधिक कमजोर एवं झड़ने लगता है इसलिए इसका इस्तेमाल महीने में 1 ही बार बाल पर करे ।

3. आंवला , मेंहदी पाउडर , इंडिगो पाउडर पेस्ट बनाकर सफेद बाल को जड़ से काला करे

आंवला में मौजूद विटामिन सी , एंटीबैक्टीरियल , एंटीऑक्सीडेंट और इंडिगो पाउडर में प्रकृति से मिलने वाला कलर मौजूद होता है , मेंहदी बाल को कलर करने में प्रयोग । आदि सभी तत्वों को आपस में मिलाकर एक पेस्ट तैयार करे और इस पेस्ट को बाल पर लगाए , इस पेस्ट का इस्तेमाल बाल पर करने से बाल काले एवं घने होते है ।

4. सफेद बाल में सरसों का तेल लगाने से बाल काले और घने होते है 


सरसों के तेल में विटामिन और पोषक तत्व पाया जाता है , जो स्वास्थ और बाल के लिए अधिक फायदेमंद होता है । सरसों के तेल को बाल में लगाने से सफेद बाल काले होते है और यह घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल प्रतिदिन शाम को करने से बाल के जड़ों तक यह पहुंचता जिससे सफेद बाल काले और मजबूत होते है ।

सरसों के तेल के फायदे

1. सफेद बाल को जड़ से काला करने में अधिक कारगर होता है ।

2. बाल को घना एवं रूसी मुक्त करता है ।

3. हृदय के स्वास्थ के लिए फायदेमंद होता है ।

4. कैंसर को रोकने में मदद करता है ।

5. चोट एवं दर्द को कम करने में मदद करता है ।

6. त्वचा पर इस्तेमाल करने से त्वचा को सुरक्षा प्रदान करता है ।

7. अस्थमा ( दमा ) के रोगी के लिए यह फायदेमंद होता है ।

8. सर्दी-जुखाम में अधिक फायदेमंद होता है ।

9. ड्राई त्वचा के लिए सरसों का तेल फायदेमंद होता होता है ।


5. दही और नारियल का तेल बाल में लगाने से सफेद बाल जड़ से काले 


दही में मौजूद तत्व जैसे – कैल्शियम ,पोषक तत्व ,विटामिन ,खनिज पदार्थ आदि सभी तत्व (प्रचुर मात्रा ) अधिक मात्रा में पाए जाते है ।

नारियल के तेल में मौजूद तत्व – नारियल के तेल में मौजूद तत्व जैसे – विटामिन K , विटामिन C ,फैटी एसिड , विटामिन E आदि सभी तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते है । दही और नारियल का संयोग ( मिश्रण ) करके इसे बाल में और बाल के जड़ों में हल्के हाथ से मसाज करने से दही और नारियल का तेल बालों के जड़ तक पहुंच कर बाल को पोषण और सुरक्षा प्रदान करते है जिससे बाल काले एवं मजबूत होते है !इस नुस्खे का इस्तेमाल हप्ते में 2 बार करने से इसके अधिक फायदे होते है ।

दही के फायदे


1. दही बाल को काला और सिल्की बनाये रखने में मदद करता है ।

2. दही के फायदे बाल में होने वाले रूसी को ठीक करने में मदद करता है ।

3. वजन कम करने में अधिक फायदेमंद होता है ।

4. भोजन पाचन के लिए फायदेमंद होता है !5. दही पेट के लिए अधिक फायदेमंद होता है ।

नारियल तेल के फायदे

1. बाल को काला करने में अधिक फायदेमंद होता है ।

2. रूखी त्वचा के लिए फायदेमंद ।

3. त्वचा पर इस्तेमाल करने से त्वचा पर सुंदरता बढ़ती है ।

4. बाल में होने वाले रूसी को कम करने के लिए फायदेमंद ।

5. दर्द को कम करने में फायदेमंद ।

6. अमरूद की पत्ती और आंवले की पत्ती सफेद बाल को जड़ से काला करे 


अमरूद की पत्ती और आंवले की पत्ती ( आवश्यकता अनुसार ) को बारीक पीसकर इसमें दही मिलाकर इस पेस्ट को अच्छी तरह मिलाये और मिलाने के बाद इसे बालों पर लेप बनाकर लगाए , इस नुस्खे का इस्तेमाल हप्ते में एक बार करने से सफेद बाल काले होते है और बाल घने एवं मजबूत होते है ।

अमरूद फायदे


1. सफेद बाल को हर समय के लिए काला करे ।

2. बाल में होने वाली रूसी ( डैंड्रफ ) से छुटकारा दिलाये ।

3. बाल को घना और मजबूत करने में यह नुस्खा अधिक फायदेमंद होता है ।

4. सिर में होने वाले फोड़ा-फुंसी से छुटकारा दिलाए ।

7. करी पत्ता सफेद बाल को करे जड़ से काला 

करी पत्ता सफेद बाल को काला करने में अधिक मदद करता है । करी पत्ता का घरेलू नुस्खा तैयार करने के लिए , सरसों का तेल या फिर नारियल के तेल के साथ 20 मिनट तक हल्के आंच पर उबाले और उबालने के बाद ठंडा करने के बाद इसे बालों में लगाए और इसका इस्तेमाल जड़ पर हल्के हाथों से मसाज करे । इस नुस्खे का इस्तेमाल हप्ते में एक बार करने से बाल जड़ से काले होते है और बाल घने भी होते है ।

करी पत्ता फायदे 

1. सफेद बाल को काला करने में अधिक मदद करता है । 

2. ब्लड प्रेशर एवं एनीमिया की बीमारी को ठीक करने में अधिक मदद करता है । 

3. जमे हुए चर्बी को कम करता है । 

4. बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद एवं उसे ठीक करने के लिए अधिक फायदेमंद होता है । 

5. त्वचा पर होने वाली सभी प्रकार की समस्या दूर होती है जैसे – चर्म रोग , सफेद दाग , ड्राई स्किन , चेचक आदि सभी के लिए फायदेमंद होता है । 

6. इसका सेवन लगातार करने से मोटापा नियंत्रण में रहता है । 

8. काली चाय ( ब्लैक टी ) के इस्तेमाल से बाल काले

काली चाय का पेस्ट तैयार करने के लिए सबसे पहले पानी और नींबू की कुछ बूंद , चाय पत्ती की आवश्यकता होती है । सबसे पहले इस पेस्ट को तैयार करने के लिए आधा गिलास पानी और नींबू की बूंद पानी में डालकर इसे हल्के आंच पर गर्म करे और गर्म होने के बाद 2 चमच चायपत्ती को गर्म पानी में डालकर इसे उबाले जब तक यह पेस्ट गाढ़ा न हो जाये , गाढ़ा होने के बाद इसे बाल पर एक लेप जैसा लगाए और हल्के हाथ से इसे बाल के जड़ पर मसाज करे ताकि जड़ मजबूत और बाल को पोषक तत्व मिले ! इस नुस्खे का इस्तेमाल प्रतिमाह 2 बार करने से यह नुस्खा बाल को जड़ से काला करने में अधिक फायदेमंद होता है ।


काली चाय फायदेमंद

1. सफेद बाल को काला करने में अधिक फायदेमंद ।

2. सर्दी-जुखाम को ठीक करने में गुणकारी ।

3. कैंसर की बीमारी को ठीक करने में फायदेमंद ।

4. रोग-प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में अधिक फायदेमंद ।

5. खांसी एवं ठंड से बचाव करने के लिए अधिक फायदेमंद ।

9. एलोवेरा और आंवले का तेल अधिक गुणकारी 

एलोवेरा और आंवले में पर्याप्त मात्रा में विटामिन और पोषक तत्व मौजूद एवं पाए जाते है । एलोवेरा और आंवले में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते है जो किसी बीमारी एवं कीटाणु से सुरक्षा प्रदान करते है । एलोवेरा और आंवले का तेल बाल के लिए अधिक फायदेमंद होते है जो सफेद बाल को जड़ से काला करने में अधिक मदद करते है ।

एलोवेरा का तेल या एलोवेरा से निकलने वाले सफेद लुगदी और आंवले का तेल दोनों को आपस में मिलाकर इसे 10 मिनट तक हल्के आंच पर गर्म करे और गर्म होने के बाद इसे ठंडा करके बाल के जड़ में लगाए इससे अधिक फायदा एवं बाल काले होते है ।


एलोवेरा और आंवले फायदे 


1. सफेद बाल को जड़ से काला करने में अधिक फायदेमंद ।

2. एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट का गुण पाया जाता है ।

3. गैस की बीमारी ठीक करने में फायदेमंद ।

4. यह दोनों तत्व एंटी डिटॉक्स का काम करता है ।

5. त्वचा के लिए फायदेमंद होते है ।

सफेद बाल से छुटकारा पाने के लिए जीवन शैली में करे यह बदलाव 

1. सफेद बाल से छुटकारा पाने के लिए योग को अपनाये ।

2. पानी का अधिक सेवन करना चाहिए ।

3. स्वस्थ भोजन का सेवन करना चाहिए ।

4. विटामिन और पोषक तत्व से भरपूर हरी सब्जी , फल , अनाज का सेवन करना चाहिए ।

5. बाल के लिए घरेलू से बना तेल , और कलर का इस्तेमाल बाल पर करना चाहिए ।

6. बाल के लिए मार्किट से मिलने वाले शैम्पू और तेल का इस्तेमाल बाल पर न करे ।

7. धूम्रपान का सेवन न करे ।

8. हैस्तमैथुन का उपयोग न करे ।

9. बाल को कंघी जरूर करे ।

सफेद बाल से छुटकारा पाने के लिए भोजन में करे यह बदलाव

1. विटामिन युक्त भोजन – हरी सब्जी , टमाटर , लौकी , आलू , गाजर आदि का सेवन अधिक मात्रा में करे ।

2. प्रोटीन युक्त – फल , सब्जी , अनाज का सेवन करे जिसमे प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है ।

3. कैल्शियम युक्त भोजन – दूध , फल , मुनक्का , तरबूज , स्ट्राबेरी आदि का सेवन करे ।

4. आयरन युक्त भोजन – पालक , अनार , सेब , मछली , अंडे ।

5. वसा युक्त भोजन – मूंगफली , मछली , चना , अंडे , सोयाबीन आदि का सेवन करना चाहिए ।

सफेद बाल के बारे में पूछे जाने वाले सवाल-जवाब ( FAQ )

सफेद बाल के प्रति लोगों का अलग-अलग सवाल-जवाब होता है जो निम्नलिखित है ।

Q. 1  क्या सफेद बाल को जड़ से काला किया जा सकता है ?

ANS – जी हाँ सफेद बाल को घरेलू उपचार से सफेद बाल को जड़ से ठीक किया जा सकता है ।

Q. 2  बाल कम उम्र में सफेद क्यों हो जाते है ?

ANS – बाल कम उम्र में सफेद इसलिए होते है की क्योंकि बाल को पोषक तत्व की कमी और तनाव के कारण ।

Q. 3  क्या एक सफेद बाल को उखाड़ने से अनेक सफेद बाल हो जाते है ?

ANS – जी हाँ अगर आप सिर के एक सफेद बाल को या फिर दाढ़ी के सफेद बाल को जड़ से उखाड़ते हो तो अन्य और भी सफेद बाल हो जाते है ।

Q. 4  क्या सफेद बाल का कारण अनुवांशिक हो सकता है ?

ANS – जी हाँ यह सही है की सफेद बाल माता-पिता से मिलने जीन के कारण हो सकता है ।

Q. 5  क्या धूम्रपान करने से सफेद बाल हो सकते है ?

ANS – जी हाँ धूम्रपान करने से सफेद बाल का कारण होता है ।

Q. 6 क्या बाजार में मिलने वाले शैम्पू /साबुन / कलर आदि सफेद बाल का कारण होते है ?

ANS – जी हाँ बाजार में मिलने वाले शैम्पू /साबुन / कलर आदि सभी कैमिकल के अधिक इस्तेमाल करने से सफेद बाल का कारण होते है ।


Q. 7  सफेद बाल के लिए कौन सा तेल इस्तेमाल करना चाहिए ?

ANS – सफेद बाल के लिए निम्नलिखित प्रकार का तेल इस्तेमाल कर सकते है जैसे –  आंवला का तेल , एलोवेरा का तेल , अरंडी का तेल , सरसों का तेल , गुड़हल से बनने वाले तेल का इस्तेमाल करे , प्याज से बने तेल का इस्तेमाल आदि सभी प्रकार का तेल सफेद बालों के लिए कर सकते है ।


Q. 8. क्या सफेद बाल का इलाज दवा से ठीक की जा सकती है ?

ANS – जी हाँ सफेद बाल का इलाज दवा और खान-पान करने से सफेद बाल काले हो सकते है ! सफेद बाल का इलाज दवा से जैसे सीरम थैरेपी , मिलैनिन दव्य मात्रा को बढ़ाकर , विटामिन , पोषक तत्व , आयरन आदि का सेवन करके सफेद बाल से छुटकारा पा सकते है ।

Q. 9 क्या सूर्य से निकलने वाले अल्ट्रा वॉयलेट किरणे बाल को प्रभावित करते है ?

ANS – जी हाँ यह सत्य है कि सूर्य से निकलने वाली किरणे बाल को अधिक प्रभावित करती है जैसे – मिलैनिन की दव्य मात्रा को करता है जिससे काले बाल सफेद हो जाते है ।

Q. 10  क्या सफेद बाल का कारण प्रदूषण भी होता है ?

ANS – हाँ सफेद बाल का कारण प्रदूषण भी होता है , बढ़ती प्रदूषण के कारण स्वास्थ और बाल पर बुरा प्रभाव होता है इसलिए बाल कम उम्र में सफेद होने लगते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *